Encounter between security forces and terrorists in Shopian | जम्मू-कश्मीर: शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर, एक जवान शहीद – NOFAA

Encounter between security forces and terrorists in Shopian | जम्मू-कश्मीर: शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर, एक जवान शहीद


डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर के शोपियां के वनगाम इलाके में शनिवार की रात सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकियों को मार गिराया। गया, जबकि सेना का एक जवान शहीद हो गया, दूसरा गंभीर रूप से घायल है। फायरिंग में दो जवान घायल हो गए। इनमें से एक ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। चिनार कॉर्प्स के मुताबिक, मौके से एक M4 और AK-47 राइफल बरामद हुई है। इससे पहले 22 मार्च को भी शोपियां जिले के मुनिहाल में सेना ने संयुक्त कार्रवाई में लश्कर-ए-तैयबा के 4 आतंकवादियों को मार गिराया था। इलाके में कुछ और आतंकियों के घिरे होने का अंदेशा है। घायल जवान को एयर लिफ्ट कर श्रीनगर के 92 बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आतंकी की शिनाख्त अभी नहीं हो पाई है।

बताया जाता है कि सुरक्षाबलों को सूचना मिली थी कि वनगाम इलाके में दो से तीन मौजूद हैं। इसके बाद शनिवार शाम लगभग आठ बजे सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम ने ऑपरेशन शुरू किया। सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी करने के बाद तलाशी अभियान शुरू किया। इसी दौरान एक घर में छिपे आतंकियों ने गोलाबारी शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी मारे गए।

इस बीच आतंकियों की गोलाबारी से में एक जवान शहीद हो गया जबकि दूसरा गंभीर रूप से जख्मी है। घायल जवान को तत्काल एयरलिफ्ट कर श्रीनगर स्थित सेना के बेस अस्पताल ले जाया गया, जहां घायल जवान का इलाज चल रहा है। इस बीच कुछ और आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर सुरक्षाबलों का अभियान जारी है। दोनों ओर से रुक-रुक कर गोलाबारी हो रही है।

गुरुवार को CRPF की पेट्रोलिंग पार्टी पर हमला हुआ था
इससे पहले गुरुवार को आतंकियों ने CRPF की पेट्रोलिंग पार्टी पर फायरिंग की थी। इसमें 2 जवान शहीद हो गए थे। NH-44 पर 73वीं ब​टालियन की रोड ओपनिंग पार्टी पर पैदल आए आतंकवादियों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी। इसमें एक सब-इंस्पेक्टर शहीद हो गए। दूसरे जवान की इलाज के दौरान मौत हुई थी। हमले के पीछे लश्कर-ए-तैयबा का हाथ बताया गया था। ​​​​​

22 मार्च को शोपियां में मारे गए थे लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकी
इससे पहले 22 मार्च को शोपियां में लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकियों को मार गिराने में सफलता मिली थी। यह इस साल का सबसे बड़ा ऑपरेशन था जिसमें एक साथ चार दहशतगर्दों का काम तमाम किया गया। इस ऑपरेशन को सेना की 34 राष्ट्रीय राइफल्स, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने अंजाम दिया था।
 
साल    मारे गए आतंकी
2018    257
2019    157
2020    221
2021    19 (22 मार्च तक)


Source link

Leave a Comment