Teeka Utsav: PM Modi made these 4 appeals to the country in the war against Corona | टीका उत्सव: पीएम मोदी ने कोरोना के खिलाफ जंग में की देश से ये 4 अपील – NOFAA

Teeka Utsav: PM Modi made these 4 appeals to the country in the war against Corona | टीका उत्सव: पीएम मोदी ने कोरोना के खिलाफ जंग में की देश से ये 4 अपील

[ad_1]

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना की स्थिति एक बार फिर से बिगड़ती नजर आ रही है। हालांकि इससे लड़ाई के लिए वैक्सीन उपलब्ध है। ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाने के उद्देश्य से देशभर में आज (11 अप्रैल, रविवार) महात्मा ज्योतिबा फुले की जयंती पर देशभर में ‘टीका उत्सव’ शुरू हो गया है। इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों को पत्र लिखकर कोरोना से लड़ाई के लिए चार सूत्रीय फॉर्मूला दिया है।

पीएम ने कहा है कि, मैं देशवासियों से आग्रह करता हूं कि वे 4 चीजों का पालन करें – जिन लोगों को टीका लगवाने में मदद की जरूरत है, COVID उपचार में लोगों की मदद करें, मास्क पहनें और दूसरों को प्रेरित करें और यदि कोई व्यक्ति सकारात्मक परीक्षण करता है, तो क्षेत्र में सूक्ष्म-नियंत्रण क्षेत्र बनाएं।

काल बना कोरोना, अब तक 29 लाख से अधिक की मौत

प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों को लिखे पत्र में कहा है कि एक भी पॉजिटिव केस आने पर हम सभी का जागरूक रहना, बाकी लोगों की भी टेस्टिंग कराना बहुत आवश्यक है। इसके साथ ही जो टीका लगवाने का अधिकारी है, उसे टीका लगे, इसका पूरा प्रयास समाज को भी करना है और प्रशासन को भी।

प्रधानमंत्री मोदी ने वैक्सीन की बर्बादी रोकने की भी अपील की। उन्होंने कहा, एक भी वैक्सीन का नुकसान ना हो, हमें ये सुनिश्चित करना है। हमें जीरो वैक्सीन वेस्ट की तरफ बढ़ना है। इस दौरान हमें देश की वैक्सीनेशन क्षमता के ऑप्टिमम यूटिलाइजेशन की तरफ बढ़ना है। ये भी हमारी कपैसिटी बढ़ाने का ही एक तरीका है।

Covid-19 India: 24 घंटे में 839 लोगों की मौत

आमजन से की ये 4 अपील
पीएम मोदी ने अपनी वेबसाइट पर लिखा, आज 11 अप्रैल यानि ज्योतिबा फुले जयंती से हम देशवासी ‘टीका उत्सव’ की शुरुआत कर रहे हैं। ये ‘टीका उत्सव’ 14 अप्रैल यानि बाबा साहेब आंबेडकर जयंती तक चलेगा। उन्होंने कहा, हमें ये चार बातें, जरूर याद रखनी है। 
:- ईच वन-वैक्सीनेट वन, यानि जो लोग कम पढ़े-लिखे हैं, बुजुर्ग हैं, जो स्वयं जाकर टीका नहीं लगवा सकते, उनकी मदद करें। 
:- ईच वन-ट्रीट वन, यानि जिन लोगों के पास उतने साधन नहीं हैं, जिन्हें जानकारी भी कम है, उनकी कोरोना के इलाज में सहायता करें। 
:- ईच वन- सेव वन, यानि मैं स्वयं भी मास्क पहनूं और इस तरह स्वयं को भी सेव करूं और दूसरों को भी सेव करूं, इस पर बल देना है।
:- चौथी अहम बात, किसी को कोरोना होने की स्थिति में, माइक्रो कन्टेनमेंट जोन बनाने का नेतृत्व समाज के लोग करें। जहां पर एक भी कोरोना का पॉजिटिव केस आया है, वहां परिवार के लोग, समाज के लोग माइक्रो कन्टेनमेंट जोन बनाएं। भारत जैसे सघन जनसंख्या वाले हमारे देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई का एक महत्वपूर्ण तरीका माइक्रो कन्टेनमेंट जोन भी है।



[ad_2]
Source link

Leave a Comment