2.51 Lakh Removed By Giving Lift On Yamuna Expressway – यमुना एक्सप्रेसवे पर लिफ्ट देकर उड़ाए 2.51 लाख – NOFAA

2.51 Lakh Removed By Giving Lift On Yamuna Expressway – यमुना एक्सप्रेसवे पर लिफ्ट देकर उड़ाए 2.51 लाख

[ad_1]

ख़बर सुनें

ग्रेटर नोएडा। परी चौक और यमुना एक्सप्रेसवे लिफ्ट देकर राहगीरों से लूटपाट करने और उन्हें झांसा देकर रुपये उड़ाने वाला गिरोह सक्रिय है। शुक्रवार को आगरा जा रहे एक व्यक्ति को लिफ्ट देकर उसके बैग से 1.11 लाख रुपये और दो डेबिट कार्ड से 1.40 लाख रुपये निकाल लिए गए। पीड़ित की तहरीर पर बीटा-2 थाना पुलिस ने चोरी की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की है। क्षेत्र में बीते 27 दिनों में यह तीसरी वारदात सामने आई है।
नोएडा के सेक्टर-128 सुल्तानपुर निवासी शंभूनाथ चौधरी ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि वह शुक्रवार सुबह रोडवेज बस से नोएडा से यमुना एक्सप्रेसवे के जीरो प्वाइंट पर पहुंचे थे। उन्हें आगरा जाना था। बस का इंतजार कर रहे थे तभी एक सफेद रंग की कार उनके पास आकर रुकी और चालक आगरा-आगरा की आवाज लगाने लगा। शंभूनाथ कार में सवार हो गए। कार में चालक के अलावा तीन अन्य लोग पहले से बैठे थे। आरोपियों ने कार चलते ही कहा पूछा कि बैग में कोई आपत्तिजनक सामान तो नहीं है। इसके बाद आरोपियों ने बैग की जांच कर उसमें रखे 1.11 लाख रुपये और दो डेबिट कार्ड निकाल लिए। एक किमी दूर जाकर पीड़ित को भी एक्सप्रेसवे पर उतार दिया और भाग गए। बाद में आरोपियों ने दोनों डेबिट कार्ड से एक लाख और 40 हजार रुपये निकाल लिए।
एक जैसी वारदात लेकिन धाराएं अलग-अलग
संगीन वारदात एक ही गिरोह के अंजाम देने की आशंका के बावजूद पुलिस ठोस कार्रवाई करने के बजाय ढिलाई बरत रही है। 21 फरवरी को फिरोजाबाद निवासी सुपरवाइजर ज्ञान सिंह यादव से कार सवार बदमाशों ने परी चौक पर लिफ्ट देकर 50 हजार रुपये लूटे थे। उनसे मारपीट की गई और प्लास से नाक खींची। इसके बाद चलती कार से फेंक दिया था। तब पुलिस ने ठगी की रिपोर्ट दर्ज की। बेखौफ बदमाशों ने तीन मार्च को बरेली के मीरगंज निवासी युवक को लिफ्ट देकर चाकू के बल पर दस हजार रुपये लूट लिए। इस मामले की रिपोर्ट लूट मेें दर्ज की गई। अब, शंभूनाथ की शिकायत पर चोरी का केस दर्ज किया है।

ग्रेटर नोएडा। परी चौक और यमुना एक्सप्रेसवे लिफ्ट देकर राहगीरों से लूटपाट करने और उन्हें झांसा देकर रुपये उड़ाने वाला गिरोह सक्रिय है। शुक्रवार को आगरा जा रहे एक व्यक्ति को लिफ्ट देकर उसके बैग से 1.11 लाख रुपये और दो डेबिट कार्ड से 1.40 लाख रुपये निकाल लिए गए। पीड़ित की तहरीर पर बीटा-2 थाना पुलिस ने चोरी की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की है। क्षेत्र में बीते 27 दिनों में यह तीसरी वारदात सामने आई है।

नोएडा के सेक्टर-128 सुल्तानपुर निवासी शंभूनाथ चौधरी ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि वह शुक्रवार सुबह रोडवेज बस से नोएडा से यमुना एक्सप्रेसवे के जीरो प्वाइंट पर पहुंचे थे। उन्हें आगरा जाना था। बस का इंतजार कर रहे थे तभी एक सफेद रंग की कार उनके पास आकर रुकी और चालक आगरा-आगरा की आवाज लगाने लगा। शंभूनाथ कार में सवार हो गए। कार में चालक के अलावा तीन अन्य लोग पहले से बैठे थे। आरोपियों ने कार चलते ही कहा पूछा कि बैग में कोई आपत्तिजनक सामान तो नहीं है। इसके बाद आरोपियों ने बैग की जांच कर उसमें रखे 1.11 लाख रुपये और दो डेबिट कार्ड निकाल लिए। एक किमी दूर जाकर पीड़ित को भी एक्सप्रेसवे पर उतार दिया और भाग गए। बाद में आरोपियों ने दोनों डेबिट कार्ड से एक लाख और 40 हजार रुपये निकाल लिए।

एक जैसी वारदात लेकिन धाराएं अलग-अलग

संगीन वारदात एक ही गिरोह के अंजाम देने की आशंका के बावजूद पुलिस ठोस कार्रवाई करने के बजाय ढिलाई बरत रही है। 21 फरवरी को फिरोजाबाद निवासी सुपरवाइजर ज्ञान सिंह यादव से कार सवार बदमाशों ने परी चौक पर लिफ्ट देकर 50 हजार रुपये लूटे थे। उनसे मारपीट की गई और प्लास से नाक खींची। इसके बाद चलती कार से फेंक दिया था। तब पुलिस ने ठगी की रिपोर्ट दर्ज की। बेखौफ बदमाशों ने तीन मार्च को बरेली के मीरगंज निवासी युवक को लिफ्ट देकर चाकू के बल पर दस हजार रुपये लूट लिए। इस मामले की रिपोर्ट लूट मेें दर्ज की गई। अब, शंभूनाथ की शिकायत पर चोरी का केस दर्ज किया है।

[ad_2]
Source link

Leave a Comment