Body Trade Was Going On In Connivance With Policemen, 6 Suspend – पुलिसकर्मियों की मिलीभगत से चल रहा था देह व्यापार, छह निलंबित – NOFAA

Body Trade Was Going On In Connivance With Policemen, 6 Suspend – पुलिसकर्मियों की मिलीभगत से चल रहा था देह व्यापार, छह निलंबित

[ad_1]

ख़बर सुनें

दनकौर। सिकंदराबाद रोड स्थित न्यू क्राउन प्लाजा होटल में कई माह जारी देह व्यापार का शनिवार को भंडाफोड़ हुआ। पुलिस ने मौके से होटल मैनेजर व 12 महिलाओं समेत 23 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की मिलीभगत से देह व्यापार की शिकायत पर छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। जबकि हाल ही में हटाए गए चौकी प्रभारी संजय चौधरी और कोतवाली प्रभारी की भूूमिका की जांच एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे को सौंप दी गई है। मौके से आपत्तिजनक वस्तुएं भी बरामद हुई हैं।
डीसीपी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि दनकौर क्षेत्र में न्यू क्राउन प्लाजा होटल में देह व्यापार का धंधा चल रहा है। होटल वर्ष 2014 से संचलित किया जा रहा है। जिसमें चीती गांव निवासी ज्ञानेंद्र मैनेजर है। एसीपी तृतीय बृजनंदन राय के नेतृत्व में कोतवाली प्रभारी व अन्य पुलिस ने शनिवार दोपहर होटल पर दबिश दी। कार्रवाई के दौरान होटल में खुलेआम देह व्यापार का धंधा चल रहा था। पुलिस ने संचालक को हिरासत में लेकर होटल के कमरे खुलवाए। जिसके बाद सभी कमरों में मौजूद महिला और पुरुषों को गिरफ्तार कर लिया गया। कुछ महिलाओं ने पुलिस को देखकर भागने का प्रयास भी किया। गिरफ्तार महिला और पुरुष नोएडा, सिकंदराबाद और बुलंदशहर के रहने वाले हैं।
मामले में पुलिस आयुक्त ने आरोपी छह पुलिसकर्मियों हेड कांस्टेबल महेंद्र सिंह, ड्राइवर हेड कांस्टेबल फूल सिंह, आरक्षी अरविंद, प्रमोद पुरी, दीपक और अंकित नैन को निलंबित कर दिया है। जांच में सामने आया है कि आरोपी मैनेजर ग्राहकों से एक हजार रुपये लेकर एक लड़की या महिला को पेश करते थे। इनमें से 500 रुपये खुद रखते थे और 500 महिला को देते थे। देह व्यापार से जुड़ी हर बात किसी ने ग्राहक बनकर मोबाइल में रिकॉर्ड की थी इसमें पुलिस को रुपये देने की बात भी रिकॉर्ड की गई थी। यह वीडियो सामने आने के बाद ही पुलिस ने यह कार्रवाई की है।
कोई पढ़ाई तो कोई बाजार जाने के बहाने पहुंची
पुलिस पड़ताल में पता चला है कि पकड़ी गई कुछ युवतियां और महिलाएं घर से बहाना बनाकर निकलीं थीं। कोई पढ़ाई के लिए घर से निकलीं थी तो कोई बाजार से खरीदारी के बहाने निकली थी। होटल में मिले रजिस्टर में भी किसी का नाम दर्ज नहीं किया गया था।
चर्चित मामलों में सामने आते हैं चीती के आरोपी
देह व्यापार के मामले में गिरफ्तार मैनेजर चीती गांव का रहने वाला है। बाइक बोट फर्जीवाड़े के संजय भाटी समेत कई आरोपी चीती गांव के ही रहने वाले हैं। वर्ष 2009 में जिले की सबसे बड़ी लूट में भी चीती गांव के आरोपियों के नाम सामने आए थे। वहीं, जनपद के सामूहिक विवाह फर्जीवाड़े में भी चीती गांव के ही आरोपी थे।

body trade was going on in connivance with policemen, 6 suspend

body trade was going on in connivance with policemen, 6 suspend

दनकौर। सिकंदराबाद रोड स्थित न्यू क्राउन प्लाजा होटल में कई माह जारी देह व्यापार का शनिवार को भंडाफोड़ हुआ। पुलिस ने मौके से होटल मैनेजर व 12 महिलाओं समेत 23 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की मिलीभगत से देह व्यापार की शिकायत पर छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। जबकि हाल ही में हटाए गए चौकी प्रभारी संजय चौधरी और कोतवाली प्रभारी की भूूमिका की जांच एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे को सौंप दी गई है। मौके से आपत्तिजनक वस्तुएं भी बरामद हुई हैं।

डीसीपी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि दनकौर क्षेत्र में न्यू क्राउन प्लाजा होटल में देह व्यापार का धंधा चल रहा है। होटल वर्ष 2014 से संचलित किया जा रहा है। जिसमें चीती गांव निवासी ज्ञानेंद्र मैनेजर है। एसीपी तृतीय बृजनंदन राय के नेतृत्व में कोतवाली प्रभारी व अन्य पुलिस ने शनिवार दोपहर होटल पर दबिश दी। कार्रवाई के दौरान होटल में खुलेआम देह व्यापार का धंधा चल रहा था। पुलिस ने संचालक को हिरासत में लेकर होटल के कमरे खुलवाए। जिसके बाद सभी कमरों में मौजूद महिला और पुरुषों को गिरफ्तार कर लिया गया। कुछ महिलाओं ने पुलिस को देखकर भागने का प्रयास भी किया। गिरफ्तार महिला और पुरुष नोएडा, सिकंदराबाद और बुलंदशहर के रहने वाले हैं।

मामले में पुलिस आयुक्त ने आरोपी छह पुलिसकर्मियों हेड कांस्टेबल महेंद्र सिंह, ड्राइवर हेड कांस्टेबल फूल सिंह, आरक्षी अरविंद, प्रमोद पुरी, दीपक और अंकित नैन को निलंबित कर दिया है। जांच में सामने आया है कि आरोपी मैनेजर ग्राहकों से एक हजार रुपये लेकर एक लड़की या महिला को पेश करते थे। इनमें से 500 रुपये खुद रखते थे और 500 महिला को देते थे। देह व्यापार से जुड़ी हर बात किसी ने ग्राहक बनकर मोबाइल में रिकॉर्ड की थी इसमें पुलिस को रुपये देने की बात भी रिकॉर्ड की गई थी। यह वीडियो सामने आने के बाद ही पुलिस ने यह कार्रवाई की है।

कोई पढ़ाई तो कोई बाजार जाने के बहाने पहुंची

पुलिस पड़ताल में पता चला है कि पकड़ी गई कुछ युवतियां और महिलाएं घर से बहाना बनाकर निकलीं थीं। कोई पढ़ाई के लिए घर से निकलीं थी तो कोई बाजार से खरीदारी के बहाने निकली थी। होटल में मिले रजिस्टर में भी किसी का नाम दर्ज नहीं किया गया था।

चर्चित मामलों में सामने आते हैं चीती के आरोपी

देह व्यापार के मामले में गिरफ्तार मैनेजर चीती गांव का रहने वाला है। बाइक बोट फर्जीवाड़े के संजय भाटी समेत कई आरोपी चीती गांव के ही रहने वाले हैं। वर्ष 2009 में जिले की सबसे बड़ी लूट में भी चीती गांव के आरोपियों के नाम सामने आए थे। वहीं, जनपद के सामूहिक विवाह फर्जीवाड़े में भी चीती गांव के ही आरोपी थे।

body trade was going on in connivance with policemen, 6 suspend

body trade was going on in connivance with policemen, 6 suspend

[ad_2]
Source link

Leave a Comment