Contractor’s Contract Canceled, Preparing To Blacklist – ठेकेदार का ठेका निरस्त, ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी – NOFAA

Contractor’s Contract Canceled, Preparing To Blacklist – ठेकेदार का ठेका निरस्त, ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी

ख़बर सुनें

नोएडा। प्राधिकरण के सफाई कर्मियों के साथ ठेकेदार के साथियों द्वारा मारपीट करने का वीडियो वायरल होने के बाद मामला तूल पकड़ने लगा है। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने सेक्टर-49 थाने में एफआईआर दर्ज की है। मारपीट का मामला सामने आने के बाद शुक्रवार को करीब 400 सफाई कर्मियों ने सेक्टर-39 स्थित प्राधिकरण कार्यालय पर प्रदर्शन कर ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। प्राधिकरण ने इस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए ठेकेदार का ठेका निरस्त कर दिया है और अब ब्लैक लिस्ट करने को लेकर कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उधर, ठेकेदार पर कार्रवाई होने के चार घंटे बाद प्रदर्शन खत्म कर सफाई कर्मी वापस लौट गए।
बृहस्पतिवार रात को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ। बताया गया कि यह वीडियो सेक्टर-72 का है। इसमें कुछ लोग सफाई कर्मचारियों के साथ मारपीट करते हुए दिखाई दे रहे हैं। आरोप है कि प्राधिकरण के ठेकेदार सतपाल व रविंद्र, ब्रह्मजीत, भीम आदि ने सफाई कर्मचारियों के साथ मारपीट की और जातिसूचक शब्द कहे। पीड़ित पक्ष का आरोप है कि इस मामले में पुलिस किसी को गिरफ्तार नहीं कर रही है, जबकि आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं। वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में कोतवाली सेक्टर-49 पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।
वहीं, एफआईआर दर्ज होने के बाद मामला शांत नहीं हुआ। नोएडा प्राधिकरण के सेक्टर-39 कार्यालय पर शुक्रवार को करीब 400 सफाई कर्मियों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान उन्होंने ठेकेदार का ठेका निरस्त करते हुए कार्रवाई की मांग की। उनका कहना था कि ठेकेदार के साथियों ने उनसे मारपीट की और जबरन दबाव बनाया। सफाई कर्मियों का यहां तक कहना था कि अगर इन पर कोई कार्रवाई नहीं होती है तो वह सेक्टर-6 प्राधिकरण कार्यालय का घेराव करेंगे और शहर में सफाई व्यवस्था ठप कर देंगे।
प्रदर्शन के दौरान प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारियों ने सफाई कर्मियों की बात सुनी। इसके बाद कार्रवाई करते हुए ठेकेदार का ठेका निरस्त कर दिया गया। अब ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी है और इस बाबत कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।
-एससी मिश्रा, वरिष्ठ प्रबंधक, जन स्वास्थ्य विभाग, प्राधिकरण

नोएडा। प्राधिकरण के सफाई कर्मियों के साथ ठेकेदार के साथियों द्वारा मारपीट करने का वीडियो वायरल होने के बाद मामला तूल पकड़ने लगा है। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने सेक्टर-49 थाने में एफआईआर दर्ज की है। मारपीट का मामला सामने आने के बाद शुक्रवार को करीब 400 सफाई कर्मियों ने सेक्टर-39 स्थित प्राधिकरण कार्यालय पर प्रदर्शन कर ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। प्राधिकरण ने इस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए ठेकेदार का ठेका निरस्त कर दिया है और अब ब्लैक लिस्ट करने को लेकर कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उधर, ठेकेदार पर कार्रवाई होने के चार घंटे बाद प्रदर्शन खत्म कर सफाई कर्मी वापस लौट गए।

बृहस्पतिवार रात को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ। बताया गया कि यह वीडियो सेक्टर-72 का है। इसमें कुछ लोग सफाई कर्मचारियों के साथ मारपीट करते हुए दिखाई दे रहे हैं। आरोप है कि प्राधिकरण के ठेकेदार सतपाल व रविंद्र, ब्रह्मजीत, भीम आदि ने सफाई कर्मचारियों के साथ मारपीट की और जातिसूचक शब्द कहे। पीड़ित पक्ष का आरोप है कि इस मामले में पुलिस किसी को गिरफ्तार नहीं कर रही है, जबकि आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं। वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में कोतवाली सेक्टर-49 पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

वहीं, एफआईआर दर्ज होने के बाद मामला शांत नहीं हुआ। नोएडा प्राधिकरण के सेक्टर-39 कार्यालय पर शुक्रवार को करीब 400 सफाई कर्मियों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान उन्होंने ठेकेदार का ठेका निरस्त करते हुए कार्रवाई की मांग की। उनका कहना था कि ठेकेदार के साथियों ने उनसे मारपीट की और जबरन दबाव बनाया। सफाई कर्मियों का यहां तक कहना था कि अगर इन पर कोई कार्रवाई नहीं होती है तो वह सेक्टर-6 प्राधिकरण कार्यालय का घेराव करेंगे और शहर में सफाई व्यवस्था ठप कर देंगे।

प्रदर्शन के दौरान प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारियों ने सफाई कर्मियों की बात सुनी। इसके बाद कार्रवाई करते हुए ठेकेदार का ठेका निरस्त कर दिया गया। अब ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी है और इस बाबत कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

-एससी मिश्रा, वरिष्ठ प्रबंधक, जन स्वास्थ्य विभाग, प्राधिकरण


Source link

Leave a Comment