Oxygen Concentrator Will Meet The Needs Of Hundreds Of People – सैकड़ों लोगों की जरूरत को पूरा करेंगे ऑक्सीजन कंसंट्रेटर – NOFAA

Oxygen Concentrator Will Meet The Needs Of Hundreds Of People – सैकड़ों लोगों की जरूरत को पूरा करेंगे ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

ख़बर सुनें

ग्रेटर नोएडा। इंडियन इंडस्ट्री एसोसिएशन (आईआईए) ग्रेटर नोएडा चैप्टर ने एक कंपनी के साथ मिलकर 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का ऑर्डर किया है, जो एक सप्ताह के अंदर चीन से भारत पहुंच जाएंगे। इन कंसंट्रेटर की मदद से उद्योग जगत से जुड़े सैकड़ों कोविड मरीजों की ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा किया जा सकेगा। वहीं, ग्रेटर नोएडा की एक कंपनी अगले साल में इसका उत्पादन शुरू करने की तैयारी कर रही है।
आईआईए ग्रेनो चैप्टर के चेयरमैन विशारद गौतम ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर में संक्रमण तेजी से फैल रहा है। लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है। उद्योगों पर भी बुरा असर पड़ रहा है। उद्योग जगत के लोग भी ऑक्सीजन नहीं मिलने से परेशान हैं। इसको देखकर आईआईए ने इंडो प्लास्ट कंपनी के साथ मिलकर चीन से 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का मंगाए हैं। उनका कहना है कि अभी तक ये भारत आ जाते, लेकिन चीन की एयरलाइंस ने भारत के लिए सेवा बंद कर दी है। अब एक सप्ताह बाद ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ग्रेटर नोएडा पहुंचेंगे।
उन्होंने बताया कि 100 में से 10 कंसंट्रेटर को सुरक्षित रखा जाएगा। 10 कंसंट्रेटर की मदद से एक हेल्प डेस्क शुरू की जाएगी। अगर उद्योगों में मरीज को आपात स्थिति में निशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा। जरूरत पूरी होने के बाद कंसंट्रेटर लौटाना होगा। वहीं, बाकी कंसंट्रेटर को उद्यमियों में विक्रय किया जाएगा, इसमें कोई मुनाफा नहीं कमाया जाएगा। उन्होंने बताया कि बाजार में कंसंट्रेटर 50 से 60 हजार रुपये में मिल रहे हैं, जबकि चीन से आने वाले कंसंट्रेटर 30 हजार रुपये तक पड़ेंगे। उन्होंने बताया कि औद्योगिक सेक्टर उद्योग विहार एक्सटेंशन स्थित इंडो प्लास्ट कंपनी के मालिक जेएड रहमान ने बताया कि भारत में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का निर्माण नहीं होता है। कंपनी इसका निर्माण करने को तैयार है। इस संबंध में जिला प्रशासन से अनुमति मांगी जाएगी।
वायुमंडल से ऑक्सीजन बनाता है कंसंट्रेटर
ऑक्सीजन कंसंट्रेटर एक पोर्टेबल मशीन है, जो वायुमंडल से हवा लेती है और उसमें से धूल, मिट्टी और नाइट्रोजन को अलग कर मरीज तक ऑक्सीजन पहुंचाती है। इसमें ऑक्सीजन सिलिंडर नहीं लगा होता है।

ग्रेटर नोएडा। इंडियन इंडस्ट्री एसोसिएशन (आईआईए) ग्रेटर नोएडा चैप्टर ने एक कंपनी के साथ मिलकर 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का ऑर्डर किया है, जो एक सप्ताह के अंदर चीन से भारत पहुंच जाएंगे। इन कंसंट्रेटर की मदद से उद्योग जगत से जुड़े सैकड़ों कोविड मरीजों की ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा किया जा सकेगा। वहीं, ग्रेटर नोएडा की एक कंपनी अगले साल में इसका उत्पादन शुरू करने की तैयारी कर रही है।

आईआईए ग्रेनो चैप्टर के चेयरमैन विशारद गौतम ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर में संक्रमण तेजी से फैल रहा है। लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है। उद्योगों पर भी बुरा असर पड़ रहा है। उद्योग जगत के लोग भी ऑक्सीजन नहीं मिलने से परेशान हैं। इसको देखकर आईआईए ने इंडो प्लास्ट कंपनी के साथ मिलकर चीन से 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का मंगाए हैं। उनका कहना है कि अभी तक ये भारत आ जाते, लेकिन चीन की एयरलाइंस ने भारत के लिए सेवा बंद कर दी है। अब एक सप्ताह बाद ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ग्रेटर नोएडा पहुंचेंगे।

उन्होंने बताया कि 100 में से 10 कंसंट्रेटर को सुरक्षित रखा जाएगा। 10 कंसंट्रेटर की मदद से एक हेल्प डेस्क शुरू की जाएगी। अगर उद्योगों में मरीज को आपात स्थिति में निशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा। जरूरत पूरी होने के बाद कंसंट्रेटर लौटाना होगा। वहीं, बाकी कंसंट्रेटर को उद्यमियों में विक्रय किया जाएगा, इसमें कोई मुनाफा नहीं कमाया जाएगा। उन्होंने बताया कि बाजार में कंसंट्रेटर 50 से 60 हजार रुपये में मिल रहे हैं, जबकि चीन से आने वाले कंसंट्रेटर 30 हजार रुपये तक पड़ेंगे। उन्होंने बताया कि औद्योगिक सेक्टर उद्योग विहार एक्सटेंशन स्थित इंडो प्लास्ट कंपनी के मालिक जेएड रहमान ने बताया कि भारत में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का निर्माण नहीं होता है। कंपनी इसका निर्माण करने को तैयार है। इस संबंध में जिला प्रशासन से अनुमति मांगी जाएगी।

वायुमंडल से ऑक्सीजन बनाता है कंसंट्रेटर

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर एक पोर्टेबल मशीन है, जो वायुमंडल से हवा लेती है और उसमें से धूल, मिट्टी और नाइट्रोजन को अलग कर मरीज तक ऑक्सीजन पहुंचाती है। इसमें ऑक्सीजन सिलिंडर नहीं लगा होता है।


Source link

Leave a Comment