एप से लिए गए लोन को चुकाने के बाद भी मिल रही हैं धमकियां
Surrounding News

एप से लिए गए लोन को चुकाने के बाद भी मिल रही हैं धमकियां

एप से लिए गए लोन को चुकाने के बाद भी मिल रही हैं धमकियां
एप से लिए गए लोन को चुकाने के बाद भी मिल रही हैं धमकियां
Written by Roja Yadav

नोएडा: इंटरनेट के माधयम से हजारों की संख्या में तुरंत लोन देने वाले एप से रहे सावधान नही तो आपको भी मिल सकती है धमकियां पहले लोगों को लोन देने देते है, और बाद उनसे कई गुना ब्याज वसूल रहे हैं। पीड़ित व्यक्ति के द्वारा लोन में लिए गए रुपये चुकाने के बाद भी उनके व्यक्तिगत फोटो और वीडियो को अश्लील वीडियो के साथ एडिट करके जालसाज सोशल मीडिया पर वायरल कर देने की धमकी दे रहे हैं। जिसके एवज में जालसाज लोगों से मोटी फिरौती वसूल रहे हैं। एक बार इस प्रकार की तुरंत लोन देने वाले एप के झांसे में फंसने के बाद

गिरोह के चंगुल में फंसने वाली महिला की आपबीती

इसी प्रकार से ठगी का सेक्टर 119 में रहने वाली एक महिला का मामला आया है। पीड़िता महिला ने इस संबंध में सेक्टर 113 थाने में शिकायत दिया है। पुलिस को दी शिकायत में सेक्टर 119 की रहने वाली भावना ने बताया है, उन्होंने कुछ दिन पहले एक लोन एप अपने फोन में इंस्टॉल किया था। जिसके जरिए उन्होंने कुछ रूपये लोन लिया था। उन्होंने बताया लोन के रुपये चुकाने के बाद भी उनसे अलग अलग फीस के नाम पर रुपये की मांग की गई। जब उन्होंने यह रुपये देने से इनकार कर दिया। तो आरोपियों ने उनके फोन से उनके व्यक्तिगत फोटो को लेकर एडिट कर उस पर अश्लील फोटो लगाकर उनके रिश्तेदारों के पास फोटो भेजने की धमकी देकर उनसे 25 हजार रुपये वसूल लिए। पीड़िता ने बताया जब और रुपये मांग किए जाने के बाद उन्होंने देने से इंकार कर दिया। तो उनके फोन के फोटो सोशल मीडिया पर भी वायरल कर दिया। पीड़िता ने बताया इसके कारण से वह काफी दिनों से मानसिक तनाव में चल रही है। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

बारिश के बाद नोएडा का बुरा हाल, सोसायटियों के बेसमेंट में भरा पानी – Apartment News (nofaa.in)

सुरक्षित नहीं है, तुरंत लोन देने वाले एप

नोएडा साइबर सेल के प्रभारी शनत कुमार ने बताया है, पिछले कुछ महीने से इंटरनेट पर तुरंत लोन देने वाले हजारों की संख्या में ऐप उपलब्ध हो गए हैं। यह ऐप लोगों को सोशल मीडिया और यूट्यूब पर विज्ञापन में बड़ी संख्या में दिखाई देते हैं। जिन्हें देखकर खासकर के युवा इन ऐप को तुरंत ही डाउनलोड कर लेते हैं। एप डाउनलोड करते वक्त कांटेक्ट, गैलरी, फोटोस, सोशल मीडिया से लेकर सभी चीजों पर यह एक्सेस मांगते हैं। इसके साथ ही इस प्रकार के एप बैंक अकाउंट नंबर, नेट बैंकिंग, पैन नंबर, आधार नंबर इन सभी दस्तावेज को भी एप की केवाईसी के वक्त लोगों से ले लेते हैं। जिसके बाद उन्हें उनके द्वारा दिए गए प्रोफाइल के अनुसार लोन की एक लिमिट दे देते हैं। जिसके बाद जब यूजर इन ऐप के जरिए लोन लेता है। तो उसमें वापस करने के कई टर्म्स एंड कंडीशन बनाए होते हैं। जिनमें कुछ ही घंटों में उन्हें रुपये वापस करना होता है। हालांकि यह ज्यादातर टर्म्स एंड कंडीशन फर्जी होते हैं। इनका मुख्य उद्देश होता है। लोगों से ज्यादा से ज्यादा रुपये की वसूली करना। साइबर सेल प्रभारी ने बताया एक बार रुपये लेने के बाद अगर उसमें किसी भी प्रकार की यूजर के द्वारा रूपये देने में लेट होता है। तो यह जालसाज उनके फोन में लोन एप के जरिए सेंध लगाकर उनकी व्यक्तिगत फोटो और वीडियो हासिल कर लेते हैं। जिसके बाद उन्हें अश्लील फोटो और एडल्ट वीडियो के साथ एडिट कर। एप के जरिए एक्सेस लिए यूज़र के दोस्त और रिश्तेदारों के नंबर पर भेजने के नाम पर फिरौती की मांग करते हैं। अगर कोई यूजर रुपये देने से इनकार करता है। तो यह उसे उसके ही सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर कर देते हैं। इसके साथ ही लोन एप के जरिए उनके दोस्तों और रिश्तेदारों के पास भेज देते हैं। इस प्रकार के तुरंत लोन देने वाले आपको अपने फोन में डाउनलोड करने से बचें।

एक्सपर्ट क्या कहते हैं

साइबर मामलों के जानकार रक्षित टंडन ने बताया है, लोन ऐप के जरिए फ्रॉड करने की शुरुआत कोविड के समय से ही हुई है। लेकिन डर के कारण इसकी शिकायत लोग पुलिस को नहीं दे रहे थे। पिछले कुछ महीनों में नोएडा और एनसीआर में लोन एप से ठगी करने वाले गिरोहों की सक्रियता बढ़ गई है। इंटरनेट पर उपलब्ध इस प्रकार के सभी ऐप फर्जी हैं। जिनका मुख्य उद्देश्य लोगों के फोन में एक्सेस लेकर उनसे एक्सटॉर्शन करना है। इस प्रकार के किसी भी तुरंत लोन देने वाले एप को डाउनलोड करने से बचें। हमेशा आरबीआई के द्वारा ऑथराइज लोन एप को ही डाउनलोड करें। इसके लिए आरबीआई की वेबसाइट पर जाकर इसकी जानकारी कर लें। इसके साथ ही अगर आप किसी प्रकार से इनके झांसे में फंस गए हैं, तो इसकी तत्काल शिकायत पुलिस को दें।

Join us on : Twitter & Facebook

Click below Share this vital information with your loved ones to empower them

About the author

Roja Yadav

You can share your society/area news & article with us at roja@apartmenttimes.in

Leave a Comment