Four Patients Died In Covid Hospital Due To Lack Of Oxygen – ऑक्सीजन की कमी से कोविड अस्पताल में चार मरीजों की मौत – NOFAA

Four Patients Died In Covid Hospital Due To Lack Of Oxygen – ऑक्सीजन की कमी से कोविड अस्पताल में चार मरीजों की मौत

[ad_1]

ख़बर सुनें

ग्रेटर नोएडा। कोविड संक्रमण मरीजों की जान पर भारी पड़ रहा है। सोमवार को सेक्टर-39 स्थित कोविड अस्पताल में चार मरीजों की मौत हो गई। हालांकि, अस्पताल प्रशासन दो मरीजों की मौत की बात कह रहा है। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार, मरीजों की मौत के पीछे ऑक्सीजन की कमी को बड़ा कारण माना जा रहा है। हालांकि, अस्पताल प्रशासन इससे भी इनकार कर रहा है। अस्पताल प्रशासन का कहना है कि जिन दो मरीजों की मौत हुई है। उनमें संक्रमण की स्थिति बहुत गंभीर थी। वहीं, अस्पताल में 24 घंटे में चार संक्रमितों की मौत ने व्यवस्था पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है।
स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार, अस्पताल में रविवार रात 10 से सोमवार सुबह साढ़े पांच बजे के बीच चार संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। इनमें से दो संक्रमितों की उम्र 50 वर्ष से कम है। वहीं, अस्पताल मृतकों की जानकारी देने से कतरा है। बताया जा रहा है कि अस्पताल में मरीजों की मौत का बड़ा कारण ऑक्सीजन की कमी है। हालांकि, अस्पताल प्रशासन इससे इनकार कर रहा है। अधिकारियों का कहना है कि गंभीर मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अस्पताल में भर्ती 240 मरीजों में से 65 आईसीयू में हैं। अस्पताल में प्रतिदिन 450 सिलिंडर आक्सीजन का प्रयोग किया जा रहा है। जबकि, 600 सिलिंडर की जरूरत पड़ती है। जब ऑक्सीजन की इतनी कमी है तो मरीजों को परेशानी होना लाजमी है। इसके बावजूद भी सभी मरीजों का उपचार किया जा रहा है। चिकित्सक दिन-रात संक्रमितों के उपचार में लगे हैं, लेकिन ऑक्सीजन आपूर्ति की समस्या सबसे प्रमुख है।
संक्रमण से दो गंभीर मरीजों की मौत हुई है। इनको गंभीर रूप से निमोनिया था। ऑक्सीजन बाधित होने या ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। अस्पताल में आक्सीजन की कमी जरूर है, लेकिन इसे मैनेज किया जा रहा है।
– डॉ. रेनू अग्रवाल, चिकित्सा अधीक्षक, कोविड अस्पताल
अस्पताल में दो संक्रमितों की मौत की जानकारी हुई है। इस बारे में अस्पताल की चिकित्सा अधीक्षक से जानकारी मांगी गई। उन्होंने मौत का कारण गंभीर संक्रमण बताया है। ऑक्सीजन बाधित होने से किसी की मौत नहीं हुई है।
– सुहास एलवाई, जिलाधिकारी

ग्रेटर नोएडा। कोविड संक्रमण मरीजों की जान पर भारी पड़ रहा है। सोमवार को सेक्टर-39 स्थित कोविड अस्पताल में चार मरीजों की मौत हो गई। हालांकि, अस्पताल प्रशासन दो मरीजों की मौत की बात कह रहा है। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार, मरीजों की मौत के पीछे ऑक्सीजन की कमी को बड़ा कारण माना जा रहा है। हालांकि, अस्पताल प्रशासन इससे भी इनकार कर रहा है। अस्पताल प्रशासन का कहना है कि जिन दो मरीजों की मौत हुई है। उनमें संक्रमण की स्थिति बहुत गंभीर थी। वहीं, अस्पताल में 24 घंटे में चार संक्रमितों की मौत ने व्यवस्था पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है।

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार, अस्पताल में रविवार रात 10 से सोमवार सुबह साढ़े पांच बजे के बीच चार संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। इनमें से दो संक्रमितों की उम्र 50 वर्ष से कम है। वहीं, अस्पताल मृतकों की जानकारी देने से कतरा है। बताया जा रहा है कि अस्पताल में मरीजों की मौत का बड़ा कारण ऑक्सीजन की कमी है। हालांकि, अस्पताल प्रशासन इससे इनकार कर रहा है। अधिकारियों का कहना है कि गंभीर मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अस्पताल में भर्ती 240 मरीजों में से 65 आईसीयू में हैं। अस्पताल में प्रतिदिन 450 सिलिंडर आक्सीजन का प्रयोग किया जा रहा है। जबकि, 600 सिलिंडर की जरूरत पड़ती है। जब ऑक्सीजन की इतनी कमी है तो मरीजों को परेशानी होना लाजमी है। इसके बावजूद भी सभी मरीजों का उपचार किया जा रहा है। चिकित्सक दिन-रात संक्रमितों के उपचार में लगे हैं, लेकिन ऑक्सीजन आपूर्ति की समस्या सबसे प्रमुख है।

संक्रमण से दो गंभीर मरीजों की मौत हुई है। इनको गंभीर रूप से निमोनिया था। ऑक्सीजन बाधित होने या ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। अस्पताल में आक्सीजन की कमी जरूर है, लेकिन इसे मैनेज किया जा रहा है।

– डॉ. रेनू अग्रवाल, चिकित्सा अधीक्षक, कोविड अस्पताल

अस्पताल में दो संक्रमितों की मौत की जानकारी हुई है। इस बारे में अस्पताल की चिकित्सा अधीक्षक से जानकारी मांगी गई। उन्होंने मौत का कारण गंभीर संक्रमण बताया है। ऑक्सीजन बाधित होने से किसी की मौत नहीं हुई है।

– सुहास एलवाई, जिलाधिकारी

[ad_2]
Source link

Leave a Comment